लाडली बहना योजना, वंचित महिलाओं के लिए आयोजित किया जाएगा तीसरा निःशुल्क कैंप

लाडली बहना योजना मध्यप्रदेश सरकार की बहुप्रत्यक्षित योजना है इसके अंतर्गत महिलाओं को शसक्त तथा आत्मनिर्भर बनाने के लिए मध्यप्रदेश सरकार द्वारा मध्यप्रदेश की महिलाओं के लिए प्रति महीने ₹1250 रुपए की राशि प्रदान करके उनके संबल को बड़ाबा दिया जा रहा है।

मध्यप्रदेश की बहनों के लिए एक और खुशखबरी आ गई है मध्यप्रदेश सरकार ने हाल ही में घोषणा करते हुए कहा है की मध्यप्रदेश में लाडली बहना योजना में जो महिलाए वंचित हो गई थी जिनका किसी भी कारण से फॉर्म नही भरा हो पाया था या उनकी बैंक की पासबुक से कोई खाता मैच नहीं हो पाया था तो उन सभी महिलाओं को ladli bahna yojna से जोड़ने के लिए मध्यप्रदेश सरकार द्वारा व्यापक स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है। साथ ही उनका नाम मुख्य सूची में सम्मिलित करने के लिए प्रत्येक जिले के जिलाधिकारी, कलेक्टर, एसडीएम, तहसीलदार, पटवारी को महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दे दिए गए है। जिससे जो महिलाए शेष रह गई थी उन्हें मुख्य सूची में जोड़ दिया जाए तो इस योजना का लाभ सभी महिलाओं को मिल सके।

मध्यप्रदेश सरकार द्वारा चलाए जा रहे तीसरे चरण के अभियान में योजना में सम्मिलित नहीं हो पाई महिलाओं के लिए शामिल करने के लिए पंचायत स्तर पर कैंप का आयोजन किया जा रहा है। जिससे महिलाओं को इस योजना का लाभ मिल सके।

Ladli bahna yojna में अभी तक कितनी महिलाओं को लाभ मिला है

मध्यप्रदेश की महिलाओं के लिए वरदान साबित हुए इस योजना में महिलाओं ने बड़ चढ़ के हिस्सा लिया था इस योजना में महिलाओं को प्रति महीने 1250 रुपए की राशि सरकार की तरफ से उनके खाते ट्रांसफर की जाती है अभी तक के आंकड़ों के अनुसार लगभग 1 करोड़ 60 लाख महिलाए इससे लाभान्वित हो चुकी है तथा तीसरे चरण के बाद यह आंकड़ा और बड़ जायेगा। तीसरे चरण का मुख्य उद्देश्य वंचित महिलाओं के नाम को लाडली बहना योजना में जोड़ना है जिससे कोई भी महिला इस योजना से वंचित न रह पाए।

Ladli bahna yojna के लिए पात्रता के नियम

ladli bahna yojna के लाभ को लेने के लिए मध्यप्रदेश शासन द्वारा कुछ नियम बनाए गए है अगर महिला us नियम के अनुसार आती है तो उसे उसका लाभ मिलेगा अन्यथा बो पात्रता सूची के बाहर हो जायेगी। लाडली बहना योजना के लिए नियम निम्नलिखित हैं।

  • महिला मध्यप्रदेश की मूल निवासी हो या उसकी शादी मध्यप्रदेश में हुए हो।
  • महिला के पति की अथवा महिला की सरकारी नौकरी ना हो
  • महिला का खुद का बड़ा व्यवसाय न हो
  • 10 एकड़ कृषि भूमि से अधिक महिला के नाम ना हो।

पहले लिस्ट में जिनके घर पर ट्रैक्टर था उनको शामिल नही किया गया था लेकिन बाद में तीसरे राउंड में उनको भी शामिल करने का प्लान सरकार द्वारा बनाया गया है।

अब मिलेंगे 1500 रुपए प्रति माह

लाडली बहनों के लिए सरकार द्वारा दी जा दी ₹1250 रुपए प्रति माह की राशि को बढ़ाकर सरकार द्वारा 250 रूपये और बड़ा दिए गए है जिसमे अब महिलाओं को कुलमिलाकर ₹1500 प्रति माह की राशि लाडली बहनों के बैंक खाते में सीधा ट्रांसफर कर दी जाएगी जिससे लाडली को आत्म निर्भर बनने में सरकार द्वारा सहायता प्राप्त होगी।

तीसरे चरण में ट्रैक्टर वाले होंगे शामिल

लाडली बहना योजना के तीसरे चरण में उन महिलाओं को शामिल किया जा रहा है जिनके घर पर या परिवार पर ट्रैक्टर है तथा उनका नाम ट्रैक्टर होने की वजह से पहली 2 सूचियों में शामिल नही हो पाया है। इसी कारण से बो लड़की बहना के प्रति महीने मिलने वाले लाभ से वंचित हो गई थी लेकिन अब सरकार द्वारा न्यू दिशा निर्देश जारी किए गए है जिनमे उन महिलाओं को भी शामिल कर लिया जाएगा जिनके पास या उनके परिवार के पास ट्रैक्टर है। अब मध्यप्रदेश में रहने वाली सभी महिलाओं को इसका लाभ दिया जाएगा।

लाडली बहना योजना के लिए आवेदन कहा करे

लाडली बहना योजना के लिए आवेदन करने के लिए महिलाओं को कही भी भटकने की जरूरत नहीं है सरकार द्वारा दिए गए निर्देश के पालन अधिकारी कर्मचारी आपकी पंचायत स्तर पर ब्लॉक स्तर पर आकर खुद फॉर्म भर कर जमा करके आपको इस योजना के लाभ से लाभान्वित करवाएंगे। जिला में नगर अधिकारी और ग्राम में ग्राम पंचायत सचिव पटवारी को जिम्मेदारी सोपी गई है की बो उन वंचित महिलाओं का नाम लाडली बहना योजना की मुख्य सूची में शामिल करे।

मध्यप्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही इस लाडली बहना योजना का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को आत्म निर्भर बनाना उनका विश्वास बड़ाना तथा उनके आत्मसम्मान में बड़ोत्तरी करने का है।

लाडली बहना योजना के लिए महिलाओं की कितनी उम्र होना चाहिए

लाडली बहना योजना के लिए महिलाओं की उम्र कम से कम 21 वर्ष तथा अधिकतम 60 वर्ष होनी चाहिए इस उम्र की सभी महिलाओं को इस योजना से लाभ प्राप्त होगा।

आवश्यक दस्तावेज

लाडली बहना योजना का लाभ लेने के लिए महिलाओं के पास निम्नलिखित दस्तावेज होना आवश्यक है।

  • आधार कार्ड
  • मध्यप्रदेश का मूल निवास प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • वोटर कार्ड
  • चाइल्ड आईडी
  • समग्र आईडी

इन सभी डॉक्यूमेंट को नजदीकी लग रहे कैंप में जमा करने के बाद महिलाए इस योजना का लाभ उठा पाएगी। सरकार द्वारा इसकी राशि में भी इजाफा करके 1500 रूपये प्रति माह कर दिया है।

Leave a comment